Lafdatv Hindi

लफड़ेबाज़ यहां अरेंज्ड मैरिज के बाद प्रेग्नेंट हुई बंदरिया की जल्द होगी गोदभराई

यहां अरेंज्ड मैरिज के बाद प्रेग्नेंट हुई बंदरिया की जल्द होगी गोदभराई

यहां अरेंज्ड मैरिज के बाद प्रेग्नेंट हुई बंदरिया की जल्द होगी गोदभराई, आपने शादियां तो बहुत देखी होगी लेकिन क्या आपने कभी किसी बंदर और बंदरिया की शादी होते हुए देखा है वो भी अरेंज्ड मैरिज और शादी के बाद अब बंदरिया प्रेग्नेंट है और उसकी गोदभराई की तैयारी चल रही है। इस अरेंज्ड मैरेज में सैकड़ों लोग बराती बने थे और बड़े ही धूमधाम से बेतिया में दोनों की शादी की गई। बिल्कुल इंसानों की तरह ही दोनों की शादी की गई।


By Lafdatv - June 13, 2017



यहां अरेंज्ड मैरिज के बाद प्रेग्नेंट हुई बंदरिया की जल्द होगी गोदभराई, आपने शादियां तो बहुत देखी होगी लेकिन क्या आपने कभी किसी बंदर और बंदरिया की शादी होते हुए देखा है वो भी अरेंज्ड मैरिज और शादी के बाद अब बंदरिया प्रेग्नेंट है और उसकी गोदभराई की तैयारी चल रही है। इस अरेंज्ड मैरेज में सैकड़ों लोग बराती बने थे और बड़े ही धूमधाम से बेतिया में दोनों की शादी की गई। बिल्कुल इंसानों की तरह ही दोनों की शादी की गई।

हालांकि शादी के बाद बंदरिया एक बार पहले भी मां बनी और एक बच्चे को भी जन्म दिया लेकिन वह जन्म लेते ही मर गया। अब एक बार फिर बंदरिया मां बनने वाली है और उसके मां बनने की खुशी में उसकी गोदभराई की रस्म पूरी की जा रही है जिसमें लोगों को आने का न्योता दिया गया है।

आजकल की दुनिया में बहुत सारे ऐसे लोग हैं जो जानवरों से काफी प्रेम करते हैं। ऐसे ही एक है उमेश महतो जिनको लोग क्षेत्र में बाबा के नाम से जानते हैं। एक साधारण सी जिंदगी व्यतीत करने वाले बिहार के बेतिया जिले के रहने वाले हैं।

ये बेतिया के तीन लालटेन चौक पर एक छोटी सी झोपड़ी में चाय बेचने का काम करते हैं। उसी के सहारे अपने और अपने परिवार वालों के साथ-साथ अपने बंदर (रामू ) और बंदरिया (रामदुलारी) की भी देख देख करते हैं।

इसकी शादी के लिए बाबा ने पहले कार्ड छापते हुए जिले के आला अधिकारियों तक पहुंचाया तथा उन्हें इस शादी में आने का न्योता दिया था। सभी तो नहीं पर कुछ अधिकारी इस शादी में शामिल हुए थे।

इस शादी है लगभग 200 लोग शामिल हुए तथा बंदर बंदरिया को आशीर्वाद भी दिए। यह शादी जिले के लिए एक ऐतिहासिक शादी थी जिसमें जानवरों की शादी में इंसान बराती बने हुए थे।

इन बाबा का कहना है कि दोनों बंदर-बंदरिया को बचपन में ही इन्होंने अपने पास लाया था। तब से लेकर आज तक इसका ख्याल रखते हैं और बंदर बंदरिया भी उनसे इतना ही प्रेम करते हैं। इसी का नतीजा है कि जानवरों की शादी में इंसान शामिल हुए थे। यह शादी जिले की सबसे अनोखी शादी के नाम से जाना गया था।


Tag : ,

चर्चित खबरें

World More Stories