:: LAFDA TV :: ::सियाचिन: क्या भारत और पाकिस्तान दुनिया के सबसे ऊंचे मोर्चे से सेना हटा सकते हैं?
Lafdatv Hindi

देश सियाचिन: क्या भारत और पाकिस्तान दुनिया के सबसे ऊंचे मोर्चे से सेना हटा सकते हैं?

सियाचिन: क्या भारत और पाकिस्तान दुनिया के सबसे ऊंचे मोर्चे से सेना हटा सकते हैं?

भारतीय सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने हाल ही में एक बयान दिया है कि भारत, सियाचिन ग्लेशियर (जिसे दुनिया का सबसे ऊंचा युद्धक्षेत्र माना जाता है) से सेना को हटाने के ख़िलाफ़ नहीं है, इस पर एक बार फिर ये बहस छिड़ गई है कि क्या सियाचिन ग्लेशियर डिमिलिटराइज़्ड (जहां सेना की मौजूदगी न हो) क्षेत्र बन सकता है या नहीं?



By Newsdesk - January 14, 2022



14 जनवरी 2022, नई दिल्ली

बीबीसी की खबर के मुताबिक, 12 जनवरी को सालाना प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए जनरल मनोज नरवणे ने कहा कि भारत सियाचिन ग्लेशियर से सेना हटाने के ख़िलाफ़ नहीं है. उन्होंने कहा, कि "हम सियाचिन ग्लेशियर को डिमिलिटराइज़्ड क्षेत्र बनाने के ख़िलाफ़ नहीं हैं, लेकिन इसके लिए पहली शर्त यह है कि पाकिस्तान को ऐक्चुअल ग्राउंड पोज़िशन लाइन (एजीपीएल) को स्वीकार करना होगा." ऐक्चुअल ग्राउंड पोज़िशन लाइन (एजीपीएल) वह रेखा है जो सियाचिन ग्लेशियर पर पाकिस्तान और भारतीय सेना की वर्तमान स्थिति की निशानदेही करती है. 110 किमी लंबी इस लाइन की शुरुआत भारत और पाकिस्तान प्रशासित कश्मीर को विभाजित करने वाली लाइन ऑफ़ कंट्रोल (नियंत्रण रेखा) के उत्तर में आख़िरी पॉइंट से होती है.

Source - BBC

Read More >>


Tag : ,

चर्चित खबरें

World More Stories