Lafdatv Hindi

अपराध जानिए, जिस देश में बलात्कार सिर्फ एक खेल है

जानिए, जिस देश में बलात्कार सिर्फ एक खेल है

जानिए, जिस देश में बलात्कार सिर्फ एक खेल है। आपको जानकार हैरानी होगी कि बलात्कार करना अरब देशों के मर्दों के लिए महज एक खेल है।


By Lafdatv - September 16, 2016



जानिए, जिस देश में बलात्कार सिर्फ एक खेल है। आपको जानकार हैरानी होगी कि बलात्कार करना अरब देशों के मर्दों के लिए महज एक खेल है। वहां इस खेल को ‘तहर्रूश’ कहा जाता है। सीरिया, इराक आदि देशों से शरण मांगने के लिए यूरोपीय देशों में जमा हुए लोग यह खेल यूरोपीय शहरों में खेल रहे हैं। जिनमें ज्यादातर सीरिया, अफगानिस्तान, तुर्की और मोरक्को के शरणार्थी हैं। मिस्र में इसे ‘तहर्रूश गैमिया’ या मोटे तौर पर ‘सामूहिक प्रताड़ना’ माना जाता है।

इस तरह के खेलों को खेलने वालों की मानसिकता से आप समझ सकते हैं कि अब सारे यूरोप में क्या हो रहा है? साथ ही, इसे यह कहना भी गलत न होगा कि अरब देशों की गंदगी समूचे यूरोप में आ गई है। एक जर्मन समाचार दाई वेल्ट (द वर्ल्ड) में इस आशय के बहुत सारे समाचार छपे हैं। विदित हो कि हैम्बर्ग स्थित यह जर्मन समाचार अंग्रेजों ने स्थापित किया था। उन्होंने प्रसिद्ध अंग्रेजी दैनिक ‘द टाइम्स’ की तरह से बनाना चाहते थे। कोलोन में हुई इन घटनाओं के अलावा पुलिस को बर्लिन, हैम्बर्गों बीलफेल्ड, फ्रेंकफर्ट, डसलडॉर्फ और स्टुटगार्ट में ऐसी ही बहुत सारी घटनाएं हुई हैं।

बलात्कार

इसके अलावा ‍ऑस्ट्रिया के वियना और साल्जबर्ग तथा स्ट्‍जिरलैंड के ज्यूरिख में स्थानीय महिलाओं से साथ ऐसे ही सामूहिक हमलों की चेतावनी दी गई थी। ब्रिटिश दैनिक डेलीमेल में एक रिपोर्ट प्रकाशित की गई है कि ‘तहर्रूश बड़ी संख्या में मौजूद पुरुषों द्वारा ऐसी महिलाओं के साथ खेला जाता है जो ‍कि आमतौर पर अकेली होती हैं। यह लोग पह‍ले अपने शिकार को एक घेरे में घेर लेते हैं और कुछ लोग महिलाओं के शरीरों को नोंचने खसोटने का काम करते हैं। दूसरे लोग दूर से खड़े रहकर यह सब देखते हैं।
इस तरह की अमानवीय घटनाएं उन स्थानों पर होती हैं, जहां लोगों की एक बड़ी भीड़ होती है। विदित हो कि 1990 के दशक में बोस्निया और क्रोशिया में जातीय संहार के नाम पर एक वर्ग विशेष की महिलाओं के साथ बलात्कार किया जाता है। नरसंहार के नाम पर बलात्कार को एक सैन्य नीति बना लिया जाता है और तब यूगोस्लाव सेना ने बोस्निया-हर्जेगोविना में महिलाओं के साथ बड़े पैमाने पर रेप किया गया था। ऐसा ही बोस्निया की सर्ब सेना ने भी किया।

 

बलात्कार

मिस्र की राजधानी काहिरा में तहरीर चौक पर हुए तहर्रूश हमले की एक डच महिला शिकार हुई थी। वह महिला इस घटना को कवर करने गई थी। इस घटना का दुखद पहलू यह है कि ठीक उसी स्थान पर उसी तरीके से वर्ष 2011 में सीबीएस की रिर्पोटर लारा लोगान को निशाना बनाया गया था।‍ पिछले दिसंबर में जर्मनी में एक स्थानीय लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया था और इसकी जानकारी भी एक प्रवासी महिला ने दी थी।

डेनमार्क से भी ऐसी कई खबरें आई हैं। पिछली गर्मियों में स्वीडन के एक संगीत समारोह में सीरिया और अफगानिस्तान से आए पुरुषों द्वारा अनुचित रूप से छूने से लेकर यौन उत्पीड़न किए जाने के 90 से ज्यादा मामले सामने आए थे। पिछले वर्ष नवंबर में फिनलैंड में दो अलग-अलग मामले सामने आए जिनमें अप्रवासियों ने 14 वर्षीय लड़कियों से सामूहिक बलात्कार किया था। फिनलैंड में एक अन्य मामले में एक सत्रह वर्षीय लड़की ने एक अफगान प्रवासी के साथ थोड़े दिनों डेट किया और बाद में नाता तोड़ लिया। इस पर अफगान प्रवासी ने उसके साथ बलात्कार किया, एक कम्बल में लपेटा और जिंदा जला दिया।


Tag : ,

चर्चित खबरें

World More Stories