तमिलनाडु के ऊटी में एक परिवार में उस वक्त हड़कंप मच गया जब एक हाथी का बच्चा उनके घर की छत फाड़कर अंदर घर में गिर गया। घर के अंदर रहने वाली ज़ुमिला और उनका 45 दिन का बच्चा गहरी नींद में सो रहे थे कि तभी एक धमाके की आवाज से उनकी नींद खुली।

ज़ुमिला के घर की छत सड़क के लेवल पर है। हल्की सी रोशनी में ज़ुमिला ने देखा कि उनके घर के अंदर हाथी का एक छोटा बच्चा सहमा हुआ सा खड़ा है। ज़ुमिला को लगा कि उन्होंने कोई बुरा सपना देखा है, वह फिर से सो गईं।

Also Read:   अब सरकारी अस्पतालों में मुफ्त कीमोथेरेपी की सुविधा जल्द होगी शुरू!

बाद में हाथी के बच्चे की आवाज से वह हड़बड़ा के उठ गईं। ज़ुमिला ने अपने छोटे बच्चे को उठाया और किचन में छुप गईं। गुडालुर रेंज के फॉरेस्ट ऑफिसर पी. गणेशन ने बताया कि हाथी का बच्चा खुद को इस अनजान वातावरण में देखकर घबरा गया। छत से सीधे जमीन पर गिरने से उसे थोड़ी-बहुत चोट भी लगी थी।

Also Read:   बाइक सवार समेत मोटरसाइकिल उठा ले गई ट्रैफिक पुलिस, नजारा देख सभी हैरान

वन विभाग के अधिकारी गणेशन ने बताया, जैसे ही हमें सूचना मिली, हम मौके पर पहुंचे। हमने हाथी और उसके बच्चे को जंगल में वापस छोड़ दिया। ऊटी-कोझिकोड रोड पर स्थित कोझिपालम रिजर्व फॉरेस्ट एरिया से बस 500 मीटर की दूरी पर है। इस हादसे से बुरी तरह से डरी हुई ज़ुमिला सरकारी अस्पताल में भर्ती है। गणेशन ने आगे बताया कि हाथी की मां ने घर का पीछे का दरवाजा तोड़ दिया और अपने बच्चे को बाहर निकाल लिया।

Also Read:   रजनीकांत के टक्कर का घर किसी का भी नहीं, देखिए तस्वीरें
No more articles